Blog Details Title

राजीव गांधी स्टडी सर्किल :एक सतत सफल प्रयास डॉक्टर चयनिका उनियाल पांडा

राजीव गांधी स्टडी सर्किल की स्थापना 2005 में इस उद्देश्य के साथ की गई थी हमारे देश में युवाओं के विचारों को प्रस्तुत करने का सुनने का और नए विचार उत्पन्न करने का एक आधार बना दिया जाए क्योंकि किसी भी देश की नींव उसके युवाओं के सोच और विचार पर निर्भर करती है जैसा कि सोनिया गांधी जी ने कहा है मैंने पहले भी कहा है कि प्रत्येक महाविद्यालय में महाविद्यालय और विश्वविद्यालय में नई पीढ़ी में सही विचारों को के संस्कार जरूरी है ज्ञान के बिना सही राजनीति नहीं हो सकती हमें राजनीति को मौजूदा बुराइयों से मुक्त करना है श्रीमती सोनिया गांधी

आज का लेख राजीव गांधी स्टडी सर्किल की दिल्ली यूनिट पर आधारित है और इसमें  डॉक्टर चयनिका उनियाल पांडा जो कि दिल्ली की प्रभारी है उनके साथ में डॉ राजीव वर्मा डॉ रामानंद डॉक्टर और नर्स डॉक्टर जितेंद्र नारायण डॉक्टर  जया वर्मा  डॉक्टर दिनेश आर्य  डॉक्टर खालिद नदीम खान  एक शतक  टीम के रूप में काम करते है|

डोमिनिका उनियाल पांडा का  प्रयास इस संस्था में विचारों के आदान-प्रदान में बहुत बड़ा सहयोग रहा है अगर हम राजीव गांधी स्टडी सर्कल के इतिहास की बात करें तो इसके राष्ट्रीय चेयरमैन है श्री अशोक गहलोत जी जो कि राजस्थान के मुख्यमंत्री भी है और अपने राजनीतिक अनुभव के साथ शिक्षा के महत्व को समझते हुए श्री अशोक गहलोत जी ने इस संस्था में हमेशा अथक प्रयास किया है श्री अशोक गहलोत जी ने हमेशा इस संस्था को बहुत समय दिया है और अपने योगदान से इसको लगातार आज के युवाओं में बहुत अधिक प्रचलित किया है |

 इसके अकादमिक जगत के जाने वाले प्रोफेसर सतीश राय जी नेशनल कोऑर्डिनेटर है और अगर आप उनको उनके फेसबुक या ट्विटर और अन्य सोशल मीडिया पर उनको अपने विचारों की अभिव्यक्ति  करते पाएंगे कि कांग्रेस को अपने अनुभव से युवाओं तक पहुंचा देते हैं और जो बातें युवा जीवन में समझना चाहते हैं वह प्रोफेसर सतीश राय जी अपने सीधे-साधे सरल विचारों से आपको कई सदियों की यात्रा करवा देंगे जो कि आज के युवाओं के लिए अत्यधिक आवश्यक है  प्रोफेसर सतीश राय जी  बहुत ही सरल भाषा में युवाओं को अपने से जोड़ लेते हैं उनको सुनकर कांग्रेस की राजनीति और कांग्रेस के विचारों से भली भांति परिचित होने का लाभ उठा सकते हैं सतीश राय जी ज्ञान का सागर है और आपको पूरे इतिहास को समझने में मदद कर देंगे वह हमेशा व्हाट्सएप पर और फेसबुक पर भी अपना पोस्ट डालते रहते हैं और उसको पढ़ने से आपको लगेगा कि आप कांग्रेस के उस इतिहास से रूबरू हो रहे हैं जो कि आपको बहुत असाधारण रूप से जीवन की सच्चाई से जोड़ता है |

राजस्थान के प्रभारी है श्री डॉक्टर सुभाषडॉ सुभाष गर्ग जो कि वहां के स्वास्थ्य मंत्री भी है और उन्होंने राजीव गांधी स्टडी सर्कल में अपना बहुत सारा योगदान दिया है राजीव गांधी स्टडी सर्किल में राज्य के हर हिस्से से लोगों की भागीदारी रही है इसमें ज्यादातर शिक्षक अपने विचारों का आदान प्रदान करते हैं और उस इतिहास को आने वाली नई पीढ़ी के सामने रखते हैं जो कि जीवन को जीने की आधारशिला  है|

चयनिका उनियाल पांडा दिल्ली विश्वविद्यालय में सहायक प्रोफेसर है रिसर्च फेलो नेहरू मेमोरियल म्यूजियम एंड लाइब्रेरी 2009-2011| एक लेखक पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एनएसयूआई और राष्ट्रीय महासचिव युवा कांग्रेस तथा वर्तमान में राष्ट्रीय सचिव महिला कांग्रेस|  राजीव गांधी स्टडी सर्किल में काम करने का उनका अनुभव बहुत बहुत सतत है और अपने अच्छे व्यवहार और काम के प्रति निष्ठा के कारण उन्होंने कई लोगों को अपने साथ जोड़ा है  राजीव गांधी स्टडी सर्किल दिल्ली  अब एक अच्छा प्रयास है | दिल्ली  इस विद्यालय की यूनिट में  डॉ राजीव वर्मा डॉ रामानंद डॉक्टर और नर्स डॉक्टर जितेंद्र नारायण  जया वर्मा दिनेश आर्य डॉक्टर खालिद नदीम खान मिलकर राजीव गांधी स्टडी सर्किल को एक सही मायने में वैचारिक मंच बनाने के में सफल रहे हैं |राजीव गांधी स्टडी सर्किल दिल्ली में चर्चाओं और अरे चर्चाओं  का सिलसिला अनवरत है और सबसे बड़ी खुशी की बात यह है कि इसमें दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर स्टूडेंट और अन्य यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और स्टूडेंट जुड़े हुए हैं और वह देश से संबंधित मुद्दे समाज से संबंधित मुद्दे महिलाओं से संबंधित मुद्दे पर समाज के हर तबके से संबंधित मुद्दे लगातार उठाते जा रहे हैं इसमें एक सम्मानित रूप से काम करने का अवसर मिलता है और आपको यह उम्मीद बनती है कि आप देश में कुछ योगदान दे रहे हैं एक विद्यार्थी होते हुए होते हुए या किसी भी अन्य किसी भी समाज के तबके से आते हैं ||

27 अगस्त को राजीव गांधी स्टडी सर्किल मैं एक ऑनलाइन व्याख्यान रखा गया था जिसमें  जिसमें प्रोफेसर सतीश राय जी ने अपने विचार रखे थे|इसके बाद एक और वेबीनार आयोजित किया गया वैश्विक शासन व्यवस्था चुनौतियां एवं अवसर और  22 अगस्त को एक वेबीनार आयोजित किया गया था जो कि राजीव गांधी राजीव गांधी के क्षेत्र में जन्मदिन के उपलक्ष में था और विषय था भारत रत्न राजीव गांधी कांस्टीट्यूशनल रिफॉर्म्स फॉर एंटी डिफेक्शन एंड न्यू ट्रेंस पार्लियामेंट्री डेमोक्रेसी श्री मनीष तिवारी जी ने अपने विचार रखे जिनको की बहुत सराहा गया| 27 तारीख को एक  वेबीनार रखा गया जिसमें डॉक्टर आमना ने अपने विचार रखे | राजीव गांधी स्टडी सर्किल में समय-समय पर उच्च स्तर के सेमिनार सिंपोजियम छात्रों से संबंधित हर तरह की जानकारी को लेकर  चर्चा  करता आया है |चयनिका जी अथक प्रयास करती रहती हैं और उनके इन प्रयासों के चलते आज दिल्ली विश्वविद्यालय में जामिया मिलिया जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय इग्नू इंदिरा गांधी नेशनल यूनिवर्सिटी सभी में छात्र और प्रोफेसर बहुत एक्टिव जुड़े हुए हैं और लगातार चर्चाएं होती रहने से राजनीति में जो सोनिया गांधी जी का विषय है जो विचार है कि बिना अच्छे विचारों के हम देश में अच्छी राजनीति नहीं कर सकते उसी की शुरुआत राजीव गांधी स्टडी सर्कल से होती है और इसमें उन सब अध्यापकों का फैसला विद्यार्थियों का सतत अनवरत योगदान है|

राजीव गांधी स्टडी सर्किल दिल्ली यूनिट बाकी राज्यों की  के साथ मिलकर एक बहुत बेहतरीन काम कर रहा है और इसमें  श्री अशोक गहलोत  जी प्रोफेसर प्रोफेसर सतीश राय जी सुभाष जी  डॉ सुभाष गर्ग जी डॉक्टर चयनिका उनियाल पांडा  उनके साथी मैं विद्यार्थीविद्यार्थि सभी  मिलकर विचारों को विचारों के आदान-प्रदान का अनवरत काम कर रहे हैं|

राजीव गांधी स्टडी सर्किल की टीम इसके उद्देश्य को पूरे करने में जी-जान से लगी हुई है और इससे हम उम्मीद लगा सकते हैं कि आने वाला भविष्य राजीव गांधी स्टडी सर्किल दिल्ली यूनिट के साथ-साथ पूरे देश में युवाओं को छोड़कर स्वस्थ आचार विचार का माहौल तैयार करेगा और इससे हम आने वाले समय में एक अच्छे राजनीतिक माहौल की उम्मीद कर सकते हैं

  • Related Tags:

Leave a comment