Blog Details Title

बुरे काम का बुरा नतीजा

बुरे काम का बुरा नतीजा

जीवन में सभी को सभी को चाहिए होता है हम पढ़ने में टॉप होना चाहते हैं और उस वक्त भी जो मानवीय भावनाएं हैं जैसे की गर्लफ्रेंड होना या अच्छी गाड़ी कपड़े दोस्तों में अच्छा वह यह सब दिखाना और जो आप अपने आप को गिरी दिखा पाते कि आपके पास गाड़ी है गर्लफ्रेंड है और आप दूसरों से ज्यादा अच्छे हैं तो कुछ लोग आपके आसपास आएंगे और आप इसको  सबसे बड़ी पूजा मानते हैं| कुछ लालची दोस्त होंगे जो आपकी गाड़ी में घूमना पसंद करेंगे आपके साथ होटल में खाना पसंद करें और आपको लगता है कि वह बहुत सारे लोग आपके आसपास |

 अपने मूल्यों और आदर्शों की बलि

आप जब अपने स्तर से जुड़ जाते हैं और कोई भी झूठी बात बनाकर झूठ बोल कर के किसी से रिश्ता बना लेते हैं तो कुछ समय तक आप को बड़ा सुकून मिलता है कि आपने बहुत कुछ पा लिया आप दूसरों से तुरंत आगे बढ़ गए लेकिन समय के साथ जो चीज निकल कर आती है तब आपके साथ खड़ा होने के लिए कोई नहीं मिलता क्योंकि आप झूठ बोलकर इतना झूठ बोलते हैं कि आप अपने परिवार में बच्चों में और खुद से भी झूठ बोलते और आप विश्वास के लायक नहीं रहते आप सच भी बोल रहे होते तो भी लोग आपको झूठा ही समझेंगे क्योंकि उन्होंने बार-बार बार-बार आपको अपने मुद्दों से और मूल्यों से हटते देखा है फायदा आपको मिला लड़की पास में आ गई गाड़ी मिल गई घूमना मिल गया लेकिन आखिर में आपने अपनापन होता है इसीलिए मुझे नहीं लगता कि कोई ऐसा दोस्त बनता है जो कि आप झूठे हैं चालाक होशियार है और वह दोस्त आपके साथ चलेंगे

 ईमानदारी सच्चाई में बड़ी ताकत होती है

जो ईमानदार है सच्चे हैं उनको तकलीफों का सामना करना पड़ता है अकेले रहना पड़ता है लेकिन जो लोग उनके साथ डट कर चल रहे हैं उन्हें पता है कि इंसान धोखा नहीं देता चला कि नहीं करता झूठ नहीं बोलता और आपके पास कुछ भी ना हो लेकिन कुछ लोग आपके पास हमेशा रहेंगे क्योंकि आपने सच का साथ दिया उन्हें पता है कि जो यह बोलता है वह सच बोलता है यहां तक कि हम अपने बच्चों के पास आया रखें वह भी हम सच्ची जाते सच बोले हमारे पीछे से बच्चे को अच्छे से प्यार करें घर में कुत्ता भी हम ईमानदार जाते हैं वह वाला भी मान जाते हैं दुकानदार जिसे हम सामान ले रहे हैं उसे भी उम्मीद करते हैं कि जितना पैसा दे रहा हूं मांधारी से सामान तोरी की सब्जी बेचने वाले को भी हम चाहते हैं कि हमारे पीछे से भी वह सब्जी लाए तो ईमानदारी से लाएं और कोई भी इंसान जब चालाकी करता है तो हमें उसे डर लगता है हम उसके साथ रहना नहीं चाहते

झूठी तेजी से आगे बढ़ते हैं और  दोगुनी स्पीड से गिरते  भी है

झूठों को आगे बढ़ते देखा है जल्दी-जल्दी कामयाबी लेते देखा है बड़ी-बड़ी गाड़ियों में घूमते हुए अच्छी चीजें की छुट्टियां मनाते हुए खूब पैसों में जिंदगी का सारा आनंद लेते देखा है पर उनकी गिरने का अंत भी बड़ा तीव्र होता है और जल्दी जल्दी उनको जेल जाते हुए भी देखा है जेल की रोटियां तोड़ते हुए भी देखा है जीवन में कुछ भी हो सच्चाई ईमानदारी और नैतिकता का साथ ना छोड़े सच्चाई ईमानदारी नैतिकता इसलिए जरूरी है क्योंकि आपके आसपास के लोग हमें आपका विश्वास जगाती है अगर लोगों पर आपका विश्वास नहीं है तो बड़ा मुश्किल हो जाएगा क्योंकि जो आप कहते हैं वह करते नहीं है जो कहते हैं वह करते नहीं हैं तो लोग समझ नहीं पाएंगे| चालाक लोग आपसे जुड़ना जरूर पसंद करेंगे क्योंकि उन्हें फायदा चाहिए लेकिन आखिर मैं आपकी मुसीबत के समय छोड़कर चले जाएंगे

  • Related Tags:

Leave a comment